Wednesday, 29 August 2018

सामाजिक कार्यकर्ताओं के Arrest पर मायावती जी का बयान

ad300
Advertisement

सामाजिक कार्यकर्ताओं के Arrest पर मायावती जी का बयान

BSP Press Release
आज बहन मायावती जी ने 5 सामाजिक कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी के मुद्दे पर Press Release जारी की जिनके नाम वीर वरराव राव, अरुण फरेरिया, गौतम नवलखा, सुधा भारद्वाज, वरनॉन गोंजाल्वेस शामिल है
आज 29 अगस्त को मायावती जी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करके 5 Social Workers देशभर के जो गिरफ्तार किए गए हैं उनको लेकर बहन जी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी की है ,
देशभर में सामाजिक कार्यकर्ताओं और बुद्धिजीवियों की गिरफ्तारी को बसपा प्रमुख Mayawati Ji ने निरंकुश तथा सत्ता का दुरुपयोग बताया है ।
आपको बता दें कि 7 शहरों में पुलिस ने रेड डालकर 5 सामाजिक कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है जिनमें हैदराबाद के वीर वरराव राव, अरुण फरेरिया, गौतम नवलखा, सुधा भारद्वाज, वरनॉन गोंजाल्वेस जैसे पांच एक्टिविस्ट पर कार्रवाई करके गिरफ्तार कर लिया गया है, बहन जी की Press Release के मुख्य बिंदु आपसे शेयर कर रहा हूं इसे पढ़ें और अधिक से अधिक  व्यक्तियों तक पहुंचाए ।
1.भीमा कोरेगांव में दलितों की जबरदस्त एकजुटता BJP सरकार को पसंद नहीं आई है ,समारोह के बाद हिंसा फैलाई गई और उसकी आड़ में दलितों पिछड़ों आदिवासियों के हक के लिए काम कर रहे सामाजिक कार्यकर्ताओं  Social Workers) की धड़पकड़ की जा रही है ।
2. BSP प्रमुख के अनुसार यह लोग अन्याय और अत्याचार और जमीन से बेदखली के मामलों में कोर्ट कचहरी में संघर्ष करते हैं ।
3.आतंक और डर फैलाने के उद्देश्य में करी गई कल देशभर में हुई गिरफ्तारियां, BJP सरकार की निरंकुशता की पराकाष्ठा और जितनी भी निंदा की जाए वो कम है ।
4. देश के कवि ,महिला, वकील, प्रोफेसर बुद्धिजीवियों Intellectuals के गिरफ्तारी से अपनी विफलताओं से लोगों का ध्यान बांटना चाहती है सरकार ,इस द्वेषपूर्ण कार्रवाई से लोगों में व्यापक आक्रोश है ।
5. भीमा कोरेगांव मामले में जिनके खिलाफ FIR है ,उन्हें गिरफ्तार नहीं कर पाई है सरकार ,इसके बजाय उन विख्यात लोगों को Arrest किया जा रहा है जिनका सार्वजनिक जीवन खुली किताब है ।
6. इन सामाजिक कार्यकर्ताओं और बुद्धिजीवियों पर नफरत फैलाने का आरोप बेतुका और विद्वेषपूर्ण malicious है ।
7. 5 लोगों की गिरफ्तारियां उस दौर की याद दिलाता है जब गुजरात में CM की हत्या की साजिश की आड़ में लगातार पुलिस एनकाउंटर हुए थे ।
8. BJP को ऐसी जनविरोधी और कार्यप्रणाली से बचना चाहिए ।
उम्मीद है इस प्रेस विज्ञप्ति के मुख्य बिंदुओं को आप पढ़ेंगे और ज्यादा से ज्यादा लोगों तक शेयर करेंगे ।
……………………………………………………....................................
BSP Press Note
Press Release Note
Mayawati's statement on the arrest of social workers

On August 29, Mayawati issued a press release and she has issued a press release regarding 5 social workers who have been arrested all over the country,

The arrest of social workers and intellectuals across the country has been described by BSP chief Mayawati as autocratic and misuse of power.

Let us tell you that in seven cities, police have arrested 5 social workers by arresting Red, in which five activists of Hyderabad, Veer Varavarao Rao, Arun Ferreya, Gautam Navlakha, Sudha Bharadwaj, Varanon Gonzalez have been arrested and arrested, sister I am sharing with you the main points of the press release and read it and reach more people.

1. The great unity of Dalits in Bheema Koregaon has not been liked by the BJP government, violence has been spread after the ceremony and under the guise of social workers working for the rights of Dalits and backward tribals is being thrashed.

2. According to the BSP chief, these people fight in Court Courts in cases of injustice and tyranny and eviction from the land.

3. The purpose of spreading terror and fear is to bring the arrests of the nation, the absolutism of the BJP government's autocracy and the condemnation of the same as it has been done.

4. The government wants to share the attention of people with their failures from the arrest of the poets, women, lawyers, professors and intellectuals of the country, there is widespread anger among the people with this malicious act.

5. In the Bhima Koregaon case, the FIR against whom the FIR is not arrested, the government is instead arresting those famous people whose public life is open book.

6. The allegation of spreading hatred on these social workers and intellectuals is absurd and malicious.

7. The arrest of 5 people reminds of the time when there were constant police encounter under the guise of murder of Chief Minister in Gujarat.

8. BJP should avoid such anti-people and methodology.

Hopefully you will read the main points of this press release and share it to as many people as possible.
Source by:- Dalit News Network
Share This
Previous Post
Next Post

Jai Bheem My name is Rahul. I live in Sagar Madhya Pradesh. I am currently studying in Bahujan Awaj Sagar is a social blog. I publish articles related to Bahujan Samaj on this. My purpose is to work on the shoulders from the shoulders with the people who are working differently from the Bahujan Samaj to the rule of the people and to move forward the Bahujan movement.

0 comments:

आपको यह पोस्ट कैसी लगी कृपया यहाँ comment Box में बताये
धन्यवाद